Wednesday, January 2, 2013

30th Day :: Hindi vs English medium education

आजकल जब मैं किसी parent को अपने छोटे बच्चे को यह सिखाते हुए देखता हूँ कि 'बेटा  वो Dog है, that is Cow, this is potato, you are eating tomato' etc तो मुझे यह सोचकर दुःख होता है कि क्या हमारी मातृभाषा इतनी बुरी है कि हमें अपनी बेसिक चीजों के नाम भी हिंदी में लेने में शर्म आती है।  वास्तव में english  medium सिर्फ़ status-symbol ही नहीं है बल्कि एक ऐसी मानसिकता है जो अंग्रेजों ने सैकड़ों वर्षों के शासन काल में हमारे दिमाग में भर दिया है कि english, high-profile लोगों की भाषा है और हिंदी निम्न वर्ग  की।
सोचिये जरा कि english-medium schools में पढ़ने वाला ऐसी मानसिकता  का बच्चा चाहे जितना भी पढ़ ले, हिंदी-भाषियों के साथ कैसा बर्ताव करेगा और क्या कभी आम लोगों के लिए कुछ करने का जज़्बा उसमें होगा?
ऐसा नहीं है कि मैं english का oppose कर रहा हूँ। भले ही अंग्रेज़ बुरे थे लेकिन english ने हमें एक ऐसा माध्यम दिया है जिससे global-communication आसान हो गया है।
मुझे english के हमारी नंबर दो भाषा बनने पर ऐतराज़ नहीं है लेकिन मैं इतना ज़रूर चाहता हूँ कि यह हमारी basic language न बन जाए और हिंदी-भाषी और अंग्रेजी जानने वालों के बीच दूरी की वजह न बने।
..............................................::::::::::  Jai Hind  :::::::::.................................................

2 comments: